मुजफ्फरनगर दंगा: योगी सरकार ने 20 मुकदमे वापस लेने की दी अनुमति

Posted by:

Wednesday 24 July 2019

योगी आदित्यनाथ जी नें मुजफ्फरनगर दंगे के 20 और मुक़दमे वापस लेने की अनुमति दे दी है,अब तक 74 मुकदमे वापस लेने की अनुमति मिल चुकी है। दंगों के दौरान अखिलेश यादव नें हिंदुओं पर 92 मुकदमे दर्ज किए थे, 856 लोगों को फंसाया गया था। प्रदेश की योगी सरकार ने मुजफ्फरनगर दंगे के 20 मुक़दमे और वापस लेने की अनुमति दे दी है. इसके लिए शासनादेश जारी हो चुका है. बता दें सरकार ने अब तक कुल 74 मुकदमों को वापस लेने की अनुमति दे चुकी है. शासन की तरफ से जिन मुकदमों की वापसी की अनुमति दी गई है वे पुलिस और पब्लिक की तरफ से दर्ज कराए गए थे. ये सभी केस आगजनी, लूट, डकैती आदि धाराओं के हैं. एडीएम प्रशासन अमित कुमार सिंह ने बताया कि शासन की ओर से 20 मुक़दमे वापस लेने की अनुमति के शासनादेश आए हैं. इन मुकदमों की पत्रावली प्रशासन की ओर से जिला अभियोजन अधिकारी और जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी को भेज दी गई है. बता दें पिछले वर्ष से मुजफ्फरनगर दंगे में मुक़दमे वापस लेने की कार्रवाई योगी सरकार ने शुरू की थी. लोकसभा चुनाव से पहले आठ मार्च को सात शासनादेश आए थे, जिनमे 48 मुक़दमे वापस लेने की अनुमति मिली थी. पांच मुक़दमे कोर्ट में निस्तारित हो चुके हैं, जबकि एक में पुलिस ने फाइनल रिपोर्ट लगा दी है. अब चुनाव के बाद तीन और शासनादेश जारी कर 20 मुकदमों को वापस लेने की अनुमति दी गई है. इसमें सबसे ज्यादा मुक़दमे फुगाना थाने का है. इसके अलावा भौराकलां, जारसठ, नई मंदी और शहर कोतवाली में दर्ज मुक़दमे भी शामिल हैं. Source: News18